Udaipur Murder Crime News January 2024 राजस्थान के उदयपुर और उदयपुर का ही एक इलाका है दिल्ली गेट वहां पर एक हनुमान मंदिर है और बात कर रहा हूं

शिवरात्रि का पर्व था 29 जुलाई 2019 को वहां पर पुजारी जी जैसे ही मंदिर से बाहर निकल रहे हैं तभी एक महिला जिसकी उम्र लगभग 25 साल के आसपास रही होगी उसे महिला के साथ दो बालक होते हैं जैसे ही उसे महिला ने पुजारी जी की तरफ को देखा तो पुजारी जी की तरफ को देखने के बाद उसकी आंखों में आंसू थेUdaipur Murder Crime News January 2024

पर हो रही थी पुजारी ने पूछा कि बेटा तुम रो क्यों रहे हो क्या दिक्कत है क्या परेशानी है मैं तुम्हारी क्या मदद कर सकता हूं पर रोते हुए और मैं पिछले दो दिन से कुछ भी नहीं खाया है मुझे कुछ खाने को मिल जाएगा तो इस पेट की जो आज है वह शांत हो जाएगी खत्म हो जाएगीUdaipur Murder Crime News January 2024

जैसे ही पुजारी ने यह बात अच्छी पुजारी मंदिर के अंदर जाते हैं अंदर से कुछ मिठाइयां थी कुछ खाने के समान थे बोल कर उसे महिला को दे देते हैं जैसे ही उसे महिला के हाथ में खाने का सामान दिया जाता है उसके बच्चों के हाथ में दिया जाता है तो बच्चे ऐसे खा रहे थे जैसे इससे पहले कभी उन्होंने कुछ ऐसा सामान खाया ही नहीं हैUdaipur Murder Crime News January 2024

बहुत ज्यादा भूखे थे महिला ने और बच्चों ने रोते-रोते वह खाना खाया अब खाना खाने के बाद पुजारी जी उनसे पूछने लगते हैं कि Udaipur Murder Crime News January 2024

तुम्हारा नाम क्या है तुम कहां से आए हो Udaipur Murder Crime News January 2024

तो वह बताती हैं कि झाऊल के पास धान मंडी है मैं वहां के रहने वाली हूं मेरे बच्चे हैं मेरे पति से थोड़ा विवाद हो गया था इसलिए गुस्से में घर से बाहर निकल आई हूं अब मैं कहां जाऊं की समझ नहीं पाया तो इसलिए मैं सीधा मंदिर के द्वार पर आकर बैठ गई थी 

पुजारी ने दिया रहने का झांसा और साथ लेकर चला गया 60 किलोमीटर दूर

उसे अपने साथ लेकर पहुंच जाते हैं उदयपुर से राजस्व मंडल लगभग 60 किलोमीटर दूर होता है 1 घंटे के आसपास का एक सफल होता है 1 घंटे के सफर के बाद वह अपने किराए के उसे मकान में लेकर जाते हैं वह श्रद्धा वहां रूकती है महिला रात रुकने के बाद आराम से वहां रूकती है और रूकने के बाद वहा से चली जाती है जाने के बाद कुछ वक्त बीतता हैUdaipur Murder Crime News January 2024

मन किया तो दोबारा आई पुजारी के पास

और देखते ही देखते पुजारी जी से उसे महिला की कब नजदीकियां बढ़ जाती हैं उसे पता ही नहीं चलता और पुजारी जी को भी उसे महिला से बहुत ज्यादा लगाव हो जाता है कह सकते हैं कि प्यार हो जाता है इस महिला ने अपने पति से जब विवाद ज्यादा बढ़ता है Udaipur Murder Crime News January 2024

तो पति से तलाक ले लिया पति ने भी तलाक दे दिया स्वेच्छा से और तलाक देने के बाद कहा कि यह दोनों बालक हैं वह मेरे साथ रहेंगे और तुम्हारी अपनी मर्जी है तुम जहां जाना चाहे वहां जा सकती हो मुझे कोई एतराज नहीं है परिवार से कोई नाता नहीं था कोई रिश्ता नहीं था क्योंकि वह परिवार से Udaipur Murder Crime News January 2024

वह दूर जा चुकी थी बड़ी बहन उसे फोन कर लिया करते थे कहां रह रही हो तुम्हें बच्चों की याद नहीं आती तब इस महिला ने इसका नाम होता है भानु प्रिया वह कहती है कि ज्यादा जासूसी करने की जरूरत नहीं है मैं कहां जाती हूं किसी से मिलती हूं क्या करती हूं तुम्हें इस बारे में फिक्र करने की जरूरत नहीं है

तुम अपने काम करो और मुझे अपनी जिंदगी में खुश रहने दो जैसे इस भानु प्रिया ने इस अपनी बड़ी बहन से यह बात कही तो बड़ी बहन ने भी अब बातचीत करना बिल्कुल पूरी तरह से बंद कर दिया अब जाकर यह पुजारी जी यानी कि

पुजारी राहुल राज चतुर्वेदी के साथ राजस्व में रहने लगती है रिलेशनशिप में ठीक-ठाक चल रहा था जैसे

को कुछ है ही नहीं और यह जिंदगी बड़ी खूबसूरत जिंदगी होती है जैसे-जैसे वक्त आगे बढ़ रहा था जैसे-जैसे प्यार की पीके आगे बढ़ रही थी जैसे-जैसे नजदीकी आगे बढ़ रही थी वक्त के साथ-साथ यह दूरियां भी बढ़ने लगते हैं Udaipur Murder Crime News January 2024

11 मई 2020 की रात भानु प्रिया और जो पुजारी जी राहुल राज इन दोनों में हाथ-पाई तक की नौबत्ता आ जाती है

ऐसे ही इस पुजारी को एक थप्पड़ मारा गया तो इस पुजारी को बहुत ज्यादा गुस्सा आता है और उसने इस महिला का गरीबन पकड़ लिया ग्रेवाल पकड़ने के बाद गला कुछ इस तरह से दबाया की पता ही नहीं चला कि कब उसे महीना के प्राण बाहर निकल चुके हैं वह मर चुकी हैUdaipur Murder Crime News January 2024

शरीर को लेकर अब पुजारी जी इतना ज्यादा परेशान हो जाते हैं कि करूं तो क्या करूं समझ नहीं आ रहा तो उन्होंने रात पूरी रात ऐसे निकल जाती है यानी की

12 मई 2020 आ जाता है और बुक सुबह के 4:00 बज रहे थे और रात भर जब से हत्या हुई है

उनके हाथों से सुबह के 4:00 बजे तक हजारों दिमाग में आइडिया जाते हैं कि आखिर गैस महिला कैलाश को कहां ठिकाने लगाऊं कैसे टिकट लगाऊं क्या करना है क्या नहीं करना है हजारों बार सोचते रहे कब दिन निकल आया पता ही नहीं चल थोड़ा डर भी लग रहा था

क्योंकि वह लोग डाउन का समय था और पुलिस का पहरा लगातार बढ़ रहा था घर से कोई बाहर अगर दिख भी रहा था वह तो पुलिस किसी को घर से बाहर जाने नहीं देना चाह रही थी और मोहल्ले के मोहल्ले में वेरीकेटिंग कर दिया गया था यदि कोई जाने की कोशिश करेगा तो सही नहीं होगा कुल मिलाकर यह व्यक्ति थोड़ा परेशान हो जाता है

घर में एक ड्रम रखा मिल जाता है और उसी मे लाश को रख देता है एक दिन बाद फिर

पुजारी जी सो रहे थे कि आखिरकार इससे लास्ट का क्या करूं अगर लास्ट घर में रहेगी तो सब जाएगी बदबू आने लगेगी और लोगों को पता चल जाएगा पुलिस आयेगी और पकड़कर ले जाएगी तब थोड़ा परेशान हो जाते हैं यहां से सीधा बाजार की तरफ जाते हैं और बाजार जाने के बाद सीमेंट के कट्टे लेकर आते हैं Udaipur Murder Crime News January 2024

सीमेंट के कट्टे लेकर घर लाते हैं और लाने के बाद उन्हें खोलते हैं और घोलने के बाद इस ड्रम के अंदर डालना शुरू कर देते हैं यानी कि जब तक वह धर्म पूरी तरह से भर नहीं जाता जब तक वह महिला पूरी तरह से पैक नहीं हो जाती तब तक वह उसके अंदर Udaipur Murder Crime News January 2024

सीमेंट डालते रहे और सीमेंट डालने के बाद आराम से इतना से सो जाते हैं राहत के साथ लेते हैं सोचते हैं कि आप शायद कभी भी इस बात का खुलासा नहीं हो सकेगा और कभी भी इसके अंदर से जो राज है Udaipur Murder Crime News January 2024

इस ड्रम के अंदर कभी बाहर नहीं आएगा जैसा वह सोच रहे थे ठीक वैसा ही हो रहा था तब महीने इधर महीने गुजरने लगते हैं वह अपने काम में बिजी थे मंदिर में जाते थे पूजा पाठ करते थे वापस जब उनका मन करता था घर में आकर रुक जाए करते थे इसी तरह जाते हैं Udaipur Murder Crime News January 2024

जून 2022 का यह वाक्य है एक दिन घर के अंदर से दुर्गंध आने लगती है

वह खुद नहीं समझ पा रहे थे कि यह जैसे घर में दुर्गंध आ रही थी वह सोचे थोड़ा मजबूर हो जाते हैं कि अब मैं करूं तो क्या करूं तभी मकान मालिक जो उनका होता है Udaipur Murder Crime News January 2024

सत्यनारायण वह सीधा घर में आते हैं आने के बाद कहते हैं कि महाराज जी आपके घर के अंदर से बहुत ज्यादा दुर्गंध आ रही है आखिरकार बात क्या है समझ में नहीं आ रहा है लेकिन जब आप घर में कम रहते हैं तो मैं किस्से कहता तो फिर पुजारी देखता है Udaipur Murder Crime News January 2024

की ड्रम में सुराग हो चुका था सुराग से कुछ रिसाव हो रहा था उसे रिसाव में उस पानी में से दुर्गंध आ रही थी तो वह कहते हैं कि मकान मालिक से सत्यनारायण जी मैं आपसे कुछ बताना चाहता हूं कि महिला की कैसे उनकी जिंदगी में आई थी कैसे नजदीक आई और उसके बाद कैसे Udaipur Murder Crime News January 2024

उसके हत्याएं हत्या करने के बाद कैसे ड्रम के अंदर उसके रखा सबकुछ बता दिया ड्रम आराम से चुने लगता है उसमें से पानी निकलने लगता है तभी सत्यनारायण ने कहा कि तुम्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है महाराज जी आपकी परेशानी हमारी परेशानी चलो इस परेशानी को दूर करते हैं Udaipur Murder Crime News January 2024

और निदान करने लगता है ड्रम को जलाते जलने के बाद उसके अंदर जो मिट्टी का या सीमेंट का जो पत्थर था उसे तोड़ते रहते हैं यानी कि उसका चुरा चुरा कर देते हैं जब तक इसका चुरा करते हैं उसको भरते हैं और बदरदा एक जगह है वहा एक नदी है Udaipur Murder Crime News January 2024

मामला प्रतापनगर थाने का है, जिसका खुलासा रविवार को एसपी भुवन भूषण यादव ने किया।

लगभग 3 साल पहले उसे महिला की हत्या की जाती है 3 साल के बाद उसे घटनाक्रम का खुलासा होता है और खुलासा होने के बाद उसे घटनाक्रम का खुलासा होता है

और जैसे ही खुलासे की बात अखबार टेलीविजन सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को पता चलती है तो लोगों को यकीन नहीं हो रहा था कि जो व्यक्ति मंदिर में पूजा पाठ करता है

या करता है जो व्यक्ति बहुत अच्छे-अच्छे बातें करके लोगों को संस्कार की बातें सिखाता है वह व्यक्ति कातिल भी हो सकता है पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है साथी जिस व्यक्ति ने पिस्तौल दी थी उस व्यक्ति की भी खोजबीन की जा रही है

पुलिस की कोशिश है इस घटना को किसी भी कीमत पर बक्शा नहीं जाएगा और जल्द से जल्द उन्हें सलाखों के पीछे पहुंचकर कानून के माध्यम से जो भी हो सकेगा वह इन मुजरिमों को सजा दिलवाने की कोशिश की जाएगी

2 साल बाद निकाला लाश को बाहर

एक जगह है बाजार में बनारसी नदी लगती है बनास नदी में उसे आराम से बहा देते हैं यानी कि अब उसे महिला का जो भी कुछ अंश था जो भी कुछ कारण थे जो था अब पूरी तरह से बह चुका था नदी के अंदर आपको

डर नहीं था कोई खौफ नहीं था कोई पुलिस सवाल नहीं था वह आराम से अपनी जिंदगी में मजबूर हो जाते हैं लेकिन कहते हैं की गुनाह कभी छिपता नही है और गुनाह को छुपाना आसान नहीं है

ऐसे ही एक दिन यूनिवर्सिटी के बाहर खड़े थे अवैध हथियार के बारे

तभी एक मुखबिर के कहने पर पुलिस उनके पास आती हैं और अवैध हथियार के बारे में पूछा गया तो उनके करीब 5 साल पहले कोई व्यक्ति उनका यह पिस्तौल देके चला गया था उसे व्यक्ति का नाम क्या है उसको वह जानते भी नहीं है

और उसे पिस्टल को आज तक वह रखे हुए हैं बस उनका जब मन करता था घूमते थे उनका इससे किसी को नुकसान पहुंचाने का इरादा नहीं था और जैसे ही पुलिस ने उस महिला के बारे में पूछा गया तो वह सत्पकाने लगते हैं कभी दीवार देखते थे तो कभी जमीन देखते थे

कभी आसमां देखते थे तब जाकर पुलिस ने जब शक्ति से पूछताछ की तो राहुल राज ने जो सच बताया वह सच सुनकर पुलिस भी भौचक  रह जाती है 

Pradhanmantri suryoday yojana 2024 राम मंदिर से लौटते ही पीएम मोदी ने किया सूर्योदय योजना का ऐलान, जानें इसके बारे में सब कुछ